आज के आर्टिकल kale vegetable in hindi में हम जानेंगे कि हमारे स्वास्थ्य के लिए काले की सब्जी कितनी फायदेमंद है | यह पोषक तत्वों से भरपूर होती है और यही वजह है की इसे सबसे लाभकारी सब्जी के रूप में उपयोग किया जाता है | वैसे भारत में यह कम लोकप्रिय सब्जी है लेकिन यह अन्य हरी सब्जियों की तरह आयरन और फाइबर से युक्त होती है | वैसे अभी भी कुछ लोग इसके बारे में सोच रहे होंगे की काले क्या है और यह किस तरह उपयोग है तो आज हमें काले के फायदे और विभिन्न बीमारियों को इसके द्वारा कैसे ठीक किया जा सकता है इसके बारे में जानेंगे | 

जानिए काले के बारे में | Kale Information in Hindi

केल गोभी ब्रोकली जैसी सब्जियों की तरह यह एक हरी पत्तेदार सब्जी है | इसके पत्ते हरे या बैंगनी रंग के होते है | और यह खाने में बहुत ही स्वादिस्ट होती है | अग्रेंजी में इसे kale कहा जाता है|  यह ब्रेसिकेसी परिवार की सब्जी है | यह सर्दियों की सब्जी है और यह बहुत तेजी से बढ़ती है | 

काले के पोषक तत्व | Kale Nutrient in Hindi

काले स्वास्थ्य के लिए लाभकारी इसलिए अधिक है की इसमें भरपूर मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते है | जो की कैंसर , मधुमेह,  ब्लड प्रेशर और अस्थमा जैसी बीमारियों को दूर करने में बहुत ही प्रभावी है | तो आइये जानते है काले में कौन कौनसे पोषक तत्व होते है |   

काले  के  फायदे  | Kale Benefits in Hindi

अब  जानते है  की  हमारे  स्वास्थ्य के लिए केल के क्या क्या फायदे है ?

डायबिटीज 

दुनिया में प्रतिष्ठित अमेरिकी डाइबिटीज एशोशियसन ने बताया है की डाइबिटीज के मरीजों को फाइबर , विटामिन, खनिज तत्व और एंटीऑक्सीडेंट तत्वों से युक्त भोजन करना चाहिए | ऐसा भोजन डाइबिटीज की बीमारी से शरीर को बचाये रखता है  | 

फाइबर –  2018 में एक रिसर्च हुई जिसमें यह बात सामने आयी है की जो व्यक्ति अच्छी मात्रा में डाइटरी फाइबर का सेवन करते है उन्हें टाइप 2 डाइबिटीज होने की सम्भावना बहुत कम हो जाती है | और साथ ही डाइटरी फाइबर के अधिक सेवन से शरीर में ग्लूकोज का स्तर भी कम हो जाता है | 

एंटीऑक्सीडेंट – 2012 में एक आर्टिकल में यह बताया गया है  की शरीर में बढ़ती ग्लूकोज की मात्रा शरीर में मुक्त कणों की वृद्धि का कारण होती है | केल में पाए जाने वाले विटामिन, एंटीऑक्सीडेंट तत्व और अल्फा लिनोलिक एसिड डाइबिटीज की समस्या को दूर करता है | 

हड्डियों के लिए 

शरीर की हड्डियों को स्वस्थ और मजबूत बनाये रखने में कैल्शियम और फास्फोरस बहुत्त ही महत्वपूर्ण होते है | हाल ही में हुई कुछ शोध में ये दावा किया गया है की विटामिन k के सेवन से शरीर में हड्डियों के टूटने और क्षरण होने की सम्भावना काफी कम हो जाती है |  

पका हुआ केल का एक कप विटामिन K  वयस्क की दैनिक आवश्यकता का लगभग पांच गुना प्रदान करता है, उनकी कैल्शियम की आवश्यकता का लगभग 15-18%, और दैनिक फॉस्फोरस की आवश्यकता का लगभग 7%।

ह्रदय रोग 

केल में विभिन्न प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते है जो की हमारे ह्रदय को स्वस्थ बनाते है |

पोटेशियम: अमेरिका की प्रतिष्ठित हार्ट एसोसिएशन ने सलाह दी  है  की अतिरिक्त नमक और सोडियम के सेवन को कम करते हुए पोटेशियम का अधिक सेवन करना चाहिए यह उच्च रक्तचाप और हृदय रोग के जोखिम को कम कर करता है। पका हुआ केल का एक कप पोटेशियम के लिए एक वयस्क की दैनिक आवश्यकताओं का 3.6% प्रदान करता है।

फाइबर:  फाइबर और कम रक्त लिपिड (वसा) के स्तर और रक्तचाप के बीच संबंध पाया गया। जिन लोगों ने अधिक फाइबर का सेवन किया, उनमें कुल कोलेस्ट्रॉल और कम घनत्व वाले लिपोप्रोटीन (एलडीएल), या सकती है।

एंटीऑक्सीडेंट: केल में विटामिन सी, बीटा कैरोटीन, सेलेनियम और अन्य एंटीऑक्सिडेंट कैंसर को रोकने में मदद कर सकते हैं। अध्ययनों में यह नहीं पाया गया है कि सप्लीमेंट्स का समान प्रभाव पड़ता है, लेकिन जिन लोगों को फलों और सब्जियों का अधिक सेवन होता है, उनमें विभिन्न कैंसर विकसित होने का जोखिम कम होता है। यह एंटीऑक्सिडेंट के कारण हो सकता है इन खाद्य पदार्थों में शामिल हैं।

फाइबर: 2015 से एक अध्ययन के अनुसार, फाइबर की उच्च खपत कोलोरेक्टल कैंसर के जोखिम को कम करने में मदद कर सकती है।”खराब” कोलेस्ट्रॉल के निम्न स्तर होने की संभावना अधिक थी।

कैंसर

क्लोरोफिल: केल और अन्य हरी सब्जियां जिनमें क्लोरोफिल होता है, शरीर को हेट्रोसाइक्लिक एमीन को अवशोषित करने से रोकने में मदद कर सकते हैं। ये रसायन तब होते हैं जब लोग उच्च तापमान पर पशु से उत्पन्न खाद्य पदार्थों को ग्रिल करते हैं। विशेषज्ञों ने उन्हें कैंसर से जोड़ा है।

मानव शरीर ज्यादा क्लोरोफिल को अवशोषित नहीं कर सकता है, लेकिन क्लोरोफिल इन कार्सिनोजेन्स को बांधता है और शरीर को अवशोषित करने से रोकता है। इस तरह, केल कैंसर के खतरे को सीमित कर सकता है, और हरी सब्जियों के साथ एक चरखे वाले स्टेक की जोड़ी नकारात्मक प्रभाव को कम करने में मदद कर करता है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here