बढ़ती उम्र के साथ ही शरीर बीमारियों से घिरने लगता है | और इनमे जो सबसे आम बीमारी है वो है जोड़ो का दर्द यानि की गठिया | ये दर्द आपके घुटनो, कमर , कोहनी, गर्दन, कंधो जैसे जोड़ वाले अंगो में होता है | लेकिन हमारे आसपास ही कुछ ऐसी चीजे मौजूद होती है जो जोड़ों के दर्द के इलाज में बहुत ही लाभकारी होती है | जोड़ों के दर्द की मुख्य वजह होती है शरीर में यूरिक एसिड का बढ़ना | मेडिकल की भाषा में यूरिक एसिड बढ़ने की इस प्रक्रिया को हाइपरयूरीकेमिया कहा जाता है |आज के इस आर्टिकल joint pain treatment in hindi में हम जानेंगे जोड़ो के दर्द के कारन और इसमें फायदेमंद उपायों के बारे में |

सामान्य तौर पर पुरुषो में यूरिक एसिड की मात्रा 3 से 7 मिलीग्राम / डीएल और महिलाओं में 2.5 से 6 मिलीग्राम / डीएल तक होती है | इसकी बढ़ी हुई मात्रा हमारी हड्डियों को कमजोर बनाती है , इसलिए इस पर समय से ही ध्यान दिया जाना चाहिए | वैसे तो बाजार में जोड़ो के दर्द के लिए कई तरह की दवायें मौजूद है , लेकिन आप इन महंगी दवाइयों के बजाय कुछ घरेलू उपचार करके अधिक फायदा पा सकते है | लेकिन इससे पहले यह जानना जरुरी है की यूरिक एसिड हमारी जोड़ो को कैसे प्रभावित करता है |

जोड़ो में दर्द होने का कारण | Joint Pain Causes in Hindi

शरीर के जोड़ो में दर्द होने का कारण यूरिक एसिड होता है | यूरिक एसिड का उत्पादन हमारे शरीर में होता है |  इसके अलावा प्यूरिन युक्त चीजों के खाने से भी शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा  बढ़ने लगती है | शरीर में पहुंचकर यह प्यूरिन टूटकर यूरिक एसिड में बदल जाता है | वैसे तो हमारे शरीर में बनने वाले अधिकतर यूरिक एसिड यूरिन के जरिये शरीर से  बाहर निकल जाता है | लेकिन कई परिस्थितियों में हमारा शरीर यूरिक एसिड का अधिक निर्माण करने लगता है | या फिर हमारा शरीर खून से यूरिक एसिड को प्यूरीफाई नहीं कर पाता | ऐसे में यह हमारी हड्डियों के जोड़ो में क्रिस्टल के रूप में जमने लगता है | और इस वजह से हमारे जोड़ो में दर्द रहने लगता है |

ये भी पढ़ें: कमर दर्द का घरेलू उपचार

जोड़ो के दर्द में उपचार | Joint Pain Home Remedies in Hindi

मसाज से करें जोड़ों के दर्द का इलाज | Knee Pain massage benefits in Hindi

मांसपेशियों  या हड्डियों के दर्द के लिए सबसे अच्छा उपाय है तेल मालिश  | जोड़ो में दर्द की समस्या सर्दियों के मौसम में अधिक तेजी से बढ़ जाती है | ऐसे में जोड़ों के दर्द का इलाज में तेल की अच्छे से मसाज हड्डियों और मांसपेशियों को आराम पहुँचाती है | इससे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होता है | मसाज करने के लिए सबसे बढ़िया सरसो का तेल रहता है | अगर सरसो का तेल ना हो तो आप जैतून या नारियल के तेल का भी इस्तेमाल कर सकते है |

जोड़ो के दर्द का घरेलू उपाय में सेब का सिरका | Apple Vinegar for Joint Pain in Hindi

सेब के सिरके में भरपूर मात्रा में पोषक तत्व होते है | इसमें पोटेशियम, मैग्नीशियम और कैल्शियम की अच्छी मात्रा होती है | ये पोषक तत्व शरीर में जाकर शरीर में मौजूद विषैले तत्वों को बाहर निकालते है और शरीर को डिटॉक्सिफाइड करते है जिससे की जोड़ो के दर्द में आराम मिलता है | सेब के सिरके से जोड़ो के दर्द के इलाज के लिए आप 1 कप गर्म पानी में 1 चम्मच सेब का विनेगर और शहद मिलाकर भोजन करने से पहले लें |

ये भी पढ़ें : सेब के फायदे

अर्थराइटिस का इलाज करें अदरक से | Ginger for Arthritis in Hindi

जिन भी लोगो को जोड़ो में दर्द या मांसपेशियों में दर्द की शिकायत है उनके लिए अदरक किसी वरदान की तरह है | अदरक में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते है जो बॉडी में ब्लड प्यूरीफाई करते है | और ब्लड का सर्कुलेशन भी ठीक करते है | इसलिए अर्थराइटिस का इलाज में अदरक का सेवन करने के सलाह दी जाती है | आप रोजाना अदरक के रस का सेवन करें या फिर अदरक के पावडर का सेवन करें | आप सब्जी या चाय में भी अदरक को शामिल करके अदरक के फायदों को पा सकते है |

लाल मिर्च है जोड़ों के दर्द की दवा | Red Chili for Joint Pain in Hindi

लाल मिर्च जोड़ों के दर्द के इलाज में बहुत लाभकारी होती है इसका उपयोग जोड़ों के दर्द की दवा के रूप में किया जाता है | लाल मिर्च में कैप्सेसिन योगीक होता है जो जोड़ो के दर्द में राहत प्रदान करता है | इसके ऊपर थाईलैंड में हुई रिसर्च में भी यह बात सामने आयी है की लाल मिर्च में मौजूद कैप्सेसिन जेल को ऑस्टियोअर्थराइटिस से परेशान महिलाओ को इससे अच्छा लाभ होता है | इसके लिए 1 कप नारियल के तेल में 1 से डेड चम्मच लाल मिर्च पावडर को मिला लें और इसे दर्द वाली जगह पर लगाए | और 20 मिनिट बाद इसे धो लें | इससे आपको जोड़ों के दर्द में लाभ मिलेगा |

जोड़ो के दर्द का घरेलू उपाय है लहसुन | Garlic for Joint Pain Treatment in hindi

बहुत सारी बीमारियों के साथ साथ लहसुन के फायदे जोड़ो के दर्द का घरेलू उपाय के रूप में भी लाभकारी होते है | लहसुन में सल्फर और सेलेनियम अच्छी मात्रा में पाया जाता है | जो की आपके जोड़ो के दर्द को दूर करता है और ब्लड का सर्कुलेशन ठीक करता है | इसके लिए आप रोजाना सुबह 1 कच्ची कली लहसुन की खायें | इसके अलावा अपने खानपान में भी लहसुन को शामिल करें | इससे आपकी जोड़ो के दर्द की समस्या काफी हद तक हल हो जाएगी |

सेंधा नमक है जोड़ों के दर्द का इलाज | Home Remedies for Arthritis in Hindi

सेंधा नमक के पानी से नहाने से जोड़ों के दर्द का इलाज में काफी लाभकारी सिद्ध होता है | हमारे शरीर में मैग्नीशियम की कमी से भी जोड़ो में दर्द होता है | सेंधे नमक में अच्छी मात्रा में मेग्नीशिम सल्फेट पाया जाता है | सेंधे नमक के पानी से नहाने से शरीर मेग्नेशियम सल्फेट का अवशोषण कर लेता है जिससे जोड़ो का दर्द दूर होता है साथ ही मासपेशियो की सूजन भी दूर होती है | अच्छा फायदा पाने के लिए 1 बाल्टी पानी में 2 कप सेंधा नमक डाल ले और दर्द वाले हिस्से को उसमे डुबोएं | इससे आपके दर्द में तेजी से फायदा होगा |

अर्थराइटिस का इलाज है मेथी | Joint Pain Home Remedies in Hindi

मेथी के फायदे देखकर इसे गुणों की खान माना जाता है | इसके औषधीय गुणों के कारन ही इसका उपयोग प्राकृतिक दवाओं में बड़ी मात्रा में किया जाता है | मेथी का सेवन गठिया के रोगियों को नियमित करना चाहिए इसके सेवन से गठिया के रोग में तेजी से फाय मिलता है | गठिया के रोगियों के लिए ये बेहद फायदेमंद है | इसके लिए रोजाना 1 चम्मच मेथी दाना को गुनगुने पानी के साथ लेना चाहिए |

हम उम्मीद करते है की आज की यह जानकारी आपके लिए फायदेमंद सिद्ध होगी | आगे भी हम सेहत से जुडी ऐसी ही उपयोगी  जानकारी आपके लिए लाते रहेंगे | अगर आपको यह पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे लाइक और शेयर करें | अगर आपके पास जोड़ों के दर्द से सबंधित कोई सवाल या सुझाव हो तो कमेंट करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here