आज के समय में जब पूरी दुनिया हमारे योग और आयुर्वेद का लोहा मानकर बड़ी से बड़ी बीमारी को भी इनकी सहायता से ठीक कर रही है वही हम लोग आज भी पूरी तरह से अंग्रेजी दवाइयों पर निर्भर है | अंग्रेजी दवाइयों जो की किसी भी मर्ज को जड़ से ठीक करने में सक्षम नहीं होती साथ ही इनके कुछ साइड इफेक्ट भी होते है | हमारी हर बीमारी का इलाज आसपास ही मौजूद होता है लेकिन जानकारी के आभाव में हम इधर उधर भटकते रहते है | एक सामान्य सी दिखने वाली सब्जी मेथी दाना के फायदे हमारे स्वास्थ्य के लिए कितने अधिक हो सकते है आपको इसका अंदाजा भी नहीं होगा |

इन घरेलू और आयुर्वेदिक नुस्खों से फायदा हो सकता है, लेट हो लेकिन ये हमारे शरीर को मजबूत बनाते है, और किसी भी मर्ज या बीमारी को जड़ से हमारे शरीर से दूर करते है | आज एक ऐसी ही चीज के बारे में जानेंगे जो हमारे घर में आसानी से उपलब्ध होती है और हमारे शरीर को मजबूत बनती है और कई तरह के रोगो को दूर करती है | मेथी में कई तरह की पोषक तत्व होते है जिससे की यह शरीर के लिए बेहद फ़ायदेमन्द होती है |

methi-benefits-in-hindi

पोषकतत्व से भरपूर मेथी के फायदे | Fenugreek Benefits in Hindi

मेथी कफ और वात नाशक होती है | और हमारे स्वास्थ्य के लिए मेथी और मेथी दाना के फायदे अनेक है | मेथी के अंदर कार्टिस्टेरॉयड, ट्रिगोनेल्लिन, कॉलिन, सेपोनिन्स, फास्फेट, लेसिचिन, न्यूकिल्यो, अल्युनमिन , ग्लोनयुमिन, हिस्ट्रिडिन, फास्फोरस और गंधक पाया जाता है | जिससे की शरीर पर इसका बहुत ही प्रभावकारी असर होता है | मेथी के पत्ते और उसके छोटे डंठल सब्जी और पराठो के रूप में खूब खाये जाते है | साथ ही दाना मेथी का अचार और सब्जी में मसलो के रूप में प्रयोग किया जाता है |

ये भी पढ़ें : अलसी के फायदे और नुकसान

अब जानते है की किन किन बीमारियों में मेथी तेजी से लाभ पहुँचाती है और इसका अलग अलग बीमारियों में किस तरह सेवन करना चाहिए  |

2 चम्मच मेथी दाना के फायदे | Methi Dana Benefits in Hindi

अगर आप रोजाना 2 चम्मच मेथी और इतने ही बुरे को मिलाकर फांकी लेंगें तो आपको जीवन में कभी भी लकवा, हृदयरोग,पोलियो, हाई और लो ब्लड प्रेशर, मधुमेह, गठियाबाय, साँस की बीमारी बवासीर और जोड़ों का दर्द कभी  नहीं होता | मेथी दाना के फायदे तो कई है लेकिन इसका कोई भी दुष्प्रभाव आपके शरीर पर नहीं होता है | और इसके सेवन से आपके नसों और नाड़ियों की सभी तरह की रूकावट दूर होती है |

टीबी, गठिया बीमारियों में

टीबी और गठिया जैसी बीमारी में मेथी के फायदे पाने के लिए तीन चम्मच दाना मेथी को दो कप पानी में दिन में भिगो कर रख दे| रात को इस पानी को तब तक उबाल लें जब तक यह आधा ना रह जाये | अब इसे छान लें और इसमें स्वाद के अनुसार शहद मिलाकर पी लें | इससे आपकी कफ, दमा, फेफड़े के किसी भी तरह के रोग, टीबी, गठिया, आमवात, जलोदर, पीलिया, रक्त की कमी, कमर दर्द में बेहद फायदेमंद है | साथ ही महिलाओ के अनियमित माहवारी यानि की इर्रेगुलर पीरियड में इससे काफी फायदा होता है |

ये भी पढ़ें : जोड़ों के दर्द को दूर करने के सबसे असरदार घरेलू नुस्खे

ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल करने में | Methi Benefits in Hindi

लो ब्लड प्रेशर की समस्या में मेथी के फायदे पाने के लिए मेथी की सब्जी में अदरक, लहसुन, और गरम मसाला डालकर बनाई सब्जी खानी चाहिए | यह आपके ब्लड प्रेशर को सामान्य बनाये रखती है |

यह आपके शरीर के अच्छे कोलेस्ट्रॉल यानि की HDL को बिना परिवर्तन किये आपके शरीर के बेड कोलेस्ट्रॉल यानि की LDL कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लाइसराइड को कम करती है | इसलिए हार्ट पेशेंट इसका सेवन करते है तो उनके लिए ये बेहद  फायदेमंद है |

हम उम्मीद करते है की आज की यह जानकारी आपके लिए फायदेमंद सिद्ध होगी | आगे भी हम सेहत से जुडी ऐसी ही उपयोगी  जानकारी आपके लिए लाते रहेंगे | अगर आपको यह पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे लाइक और शेयर करें | अगर आपके पास मेथी और मेथी दाना के फायदे से सबंधित कोई सवाल या सुझाव हो तो कमेंट करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here