दुनिया में अगर कोई सबसे बड़ा सुख है तो वो है निरोगी काया | मतलब आप स्वस्थ हो और आपके कोई तरह की तकलीफ और बीमारी ना हो | लेकिन आज के समय में अधिकतर लोग इस सुख से वंचित है | और इसकी सबसे बड़ी वजह है हमारा खानपान और बदलती जीवनशैली | आज के समय में जंक फ़ूड और बाहर का खाना लोगों को अधिक पसंद आने लगा है | जिसके कारन बेडोल शरीर  बढ़ती चर्बी की समस्या सामने आने लगी है | इसके अलावा आज के समय में रीढ़ की हड्डी का दर्द भी लोगो की बड़ी परेशानी की वजह है | अगर आप भी इन समस्याओ से पीड़ित है तो परेशान ना हो | आज हम आपको Merudand aur Motape ke liye Yoga में भुजंगासन (सर्पासन) के बारे में बताएंगे जो की चर्बी को घटाने और मेरुदंड की समस्या के साथ और भी कई परेशानियों के लिए रामबाण इलाज है |

ये भी पढ़ें : वजन घटाने के योगासन में लाभकारी 5 योगासन

bhujngasan-ke-fayde

भुजंगासन करने का तरीका | Bhujangasan Steps in Hindi

सर्पासन को भुजंगासन के नाम से भी जाना जाता है | इस आसान में शरीर की स्थिति सर्प की जैसी बनती है इसलिए इसे भुजंगासन कहते है | इस आसन को करने के लिए सबसे पहले एक साफ़ और समतल स्थान पर एक चटाई या दरी बिछायें | अब उस पर पेट के बल लेट जायें | दोनों पैरो को बिलकुल सीधा रखे , पैरों के तलवे ऊपर की और रखे , दोनों अंगूठो को पास पास मिला लें | अब अपने दोनों हाथों को कोहनी से मोड़ लें | और दोनों हथेलियों को अपने सीने का पास जमीन पर टिका दें | अब धीरे धीरे अपने सर को ऊपर की और उठायें , फिर अपनी गर्दन और फिर अपने सीने को और अंत में पेट को भी ऊपर उठा लें | अब नाभि से निचे का हिस्सा आपका जमीन पर टिका होगा और नाभि से ऊपर का शरीर हवा में उठा होगा |

अब अपने सर और गर्दन को अधिक से अधिक पीछे की और ले जाने की कोशिश करें | जिस तरह सर्प फैन फैलता है , आपके शरीर की स्थिति भी वैसी ही होगी | अब सर को और पीछे ले जाकर ऊपर आकाश की और देखें | इस स्थिति में आपकी कमर और पेट पर दबाव बनेगा | अब थोड़ी देर तक इसी स्थिति में बने रहे | अब स्वांस छोड़ते हुए धीरे धीरे अपने नाभि से ऊपर के शरीर को नीचे की और लाएं | सबसे पहले पेट फिर सीना और अंत में सर को जमीन पर टिका दे | अब धीरे धीरे शरीर को ढीला छोड़ दे | कुछ देर तक आराम करने  दुबारा इस प्रक्रिया को दोहराएं |

ये भी पढ़ें : सूर्यनमस्कार के फायदे

भुजंगासन के लाभ | Bhujangasan Benefits in Hindi

  1. पेट की चर्बी कम करने के योगासन के रूप में भुजंगासन फायदेमंद है साथ ही यह आपके मोटापा घटाने के उपाय के रूप में भी लाभकारी है |
  2. भुजंगासन शरीर थकान और कमजोरी दूर करने के उपाय के रूप में लाभकारी है |
  3. भुजंगासन से मेरुदंड यानि की रीढ़ की हड्डी की परेशानी दूर होती है |
  4. भुजंगासन करने से आपका शरीर लचीला बनता है |
  5. भुजंगासन का नियमित अभ्यास आपकी पाचन शक्ति बढ़ाने के उपाय के रूप में लाभकारी है, और पेट में बनने वाली कब्ज, गैस और एसिडिटी की समस्या दूर होती है |
  6. इस आसन को करने से आपके हाथ, पांव, कंधे, गर्दन और सीने की मांसपेशिया मजबूत होती है |
  7. भुजंगासन शीघ्र स्खलन का इलाज और स्वप्नदोष का इलाज में भी लाभकारी है|

हम उम्मीद करते है की भुजंगासन के फायदे से सबंधित यह जानकारी आपके लिए उपयोगी सिद्ध होगी| अगर आपकी यह जानकारी पसंद आयी हो तो इसे लाइक और शेयर करें और अगर आपके कोई सवाल या सुझाव हो तो कमेंट करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here