मुंह में छाले (muh me chale) होना एक ऐसी समस्या है जो आमतौर पर हर किसी व्यक्ति के सामने आती रहती है | आज के समय में हमारा बदला खानपान छाले होने का मुख्य कारन होता है | अधिक मिर्च युक्त तीखा भोजन करने से , पेट में कब्ज रहने से हमारे मुंह में छाले (muh me chale) होते है | इसके अलावा कई बार दांतो के लगने से भी होंठ , जीभ और गाल के अंदर वाले हिस्से पर छाले हो जाते है | छाले होने पर ना तो आप किसी से बात कर पाते है और ना ही कुछ खा पी सकते है | ऐसे में कई दिनों तक परेशानी में निकलते है| लेकिन अब Mouth Ulcer Treatment in Hindi में आपके पास कुछ आसान व अनसुने घरेलू उपायों से अपने छाले की समस्या को पूरी तरह दूर कर सकते है |

तो आइये जानते है कोनसे वे उपाय जिनसे आपके छाले पूरी तरह ठीक होंगे | Mouth Ulcer Treatment in Hindi.

विषय सूची

लहसुन से ठीक होंगे मुंह के छाले। Mouth Ulcers Treatment is Garlic in Hindi

अगर आपके मुंह में छाले (muh me chale) हो गए है तो 3 से 4 लहसुन की कलियों को लेकर उन्हें पीस ले | अब इस लहसुन के पेस्ट को अपने मुंह में छाले वाली जगह पर लगाए | थोड़ी देर तक इस पेस्ट को लगा रहने दे | इसके बाद ठंडा पानी से कुल्ला कर ले | दिन में 2 बार इस प्रक्रिया को आजमाए | लहसुन में एंटी बैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण पाए जाते है जो की आपके छालों को ठीक करने में बहुत फायदेमंद होते है |

mouth ulcers treatment in hindi

टी ट्री ऑइल से ठीक होंगे मुंह के छाले।Tea Tree Oil is Treatment of Mouth Ulcers in Hindi

कुछ पारंपरिक उपयोगों में टी ट्री ऑयल का माउथवॉश के रूप में शामिल किया जाता है, कुछ सांसों की बदबू का इलाज करने और कुछ में दांत दर्द और मुंह के छालों का इलाज (muh ke chale ka ilaj) करने में किया जाता रहा है। छालों के लिए टी ट्री ऑइल का उपयोग भी फायदेमंद होता है | इस ऑइल में एंटी बैक्टीरियल गुण पाए जाते है जो की छालों की समस्या में बहुत अधिक फायदेमंद होते है | दिन में तीन से चार बार इसे लगाने से इससे छालों में आराम मिलता है |

अडूसा के पत्ते से ठीक होंगे छाले। Adhatoda Leaves are Beneficial in Mouth Ulcers in Hindi

यह अडूसा के पत्ते भी छाले में बहुत ही फायदेमंद होते है | छाले होने पर अडूसा के 2 से 3 पत्तों को अच्छे से चबाये | इससे निकलने वाला रस आपके छालों को तेजी से ठीक करता है |अडूसा पत्ते मुंह के छाले की अचूक दवा है।

अडूसा एक बहुत ही महत्वपूर्ण औषधीय जड़ी बूटी है इस के औषधि गुण के लिए पत्ती, जड़, फूल और पूरे पौधे का उपयोग किया जाता है। अडूसा एक लम्बी, अधिक शाखाओं वाली, घनी, सदाबहार झाड़ी होती है, जिसमें बड़े, लैंस के आकार के पत्ते होते हैं। अडूसा भारत का मूल निवासी है, पूरे मैदानों में और हिमालय के निचले क्षेत्रों में होता है। इसका उपयोग कई औषधीय उपयोगों के साथ-साथ स्वास्थ्य लाभ के लिए किया जाता है।

muh ke chale ka ilaj

दूध से ठीक होंगे छाले। Mouth Ulcers Treatment with Milk in Hindi

छालों को दूध से भी ठीक किया जा सकता है यह बात शायद आपको पता नहीं होगी | दूध में कैल्शियम, विटैमिन और लैक्टिक एसिड पाया जाता है जो की वाइरस व बैक्टीरिया से लड़ने का काम करता है | दूध का प्रोटीन छालों को हीलिंग करता है जिससे छाले तेजी से ठीक होते है | छाले होने पर आप थोड़ा ठंड दूध ले तो और भी अच्छा होगा|

अमरुद के पत्ते से ठीक होंगे छाले। Guava Leaves are Beneficial in Mouth Ulcers in Hindi

अमरुद के पत्तों में कत्था मिलाकर पान की तरह चबाने से मुंह के छालों में राहत मिलती है और वो बहुत तेजी से ठीक हो जाते है |अमरूद की पत्तियां में  विटामिन सी की उच्च मात्रा  होती हैं, जो आपके चेहरे पर परेशानी होने वाले मुंहासे और दाने को भी ठीक करने में मदद करता हैं। यह उपाय बहुत ही कारगर है |

मुलेठी के ठीक से होंगे मुंह के छाले

मुलेठी के ठीक से होंगे मुंह के छाले। Mouth Blisters will Occur Properly in Hindi

छाले में मुलेठी और शहद दोनों ही बहुत उपयोगी होते है | इस उपाय के लिए मुलेठी के फायदे पाने के लिए शहद में मुलेठी मिलकर अपने छालों पर इसका लेप करें | शहद और मुलेठी में एंटी बैक्टीरियल तत्व पाए जाते है जो आपके छालों में राहत प्रदान करते है |

एलोवेरा से ठीक होंगे छाले। Sores will be Cured With Aloe Vera in Hindi

एलोवेरा के इस्तेमाल से छालों की जलन कम होती है| एलोवेरा में विटामिन ए (बीटा-कैरोटीन), सी और ई होते हैं, जो एंटीऑक्सिडेंट होते हैं और इसमें मौजूद तत्व आपके छालों के जख्मों को तेजी से भरने का काम करते है | इसलिए आप छाले होने पर एलोवेरा की पत्तियों को काटकर उसके जैल को अपनी छालों पर लगाए | इससे आपके छाले कुछ ही बार के इस्तेमाल से ठीक होंगे |

mouth ulcers treatment in hindi

फिटकरी से ठीक होंगे छाले। Alum is a Good Mouth Ulcers treatment in Hindi

फिटकरी भी छाले के लिए एक अच्छा उपाय है | लेकिन इसके इस्तेमाल से थोड़ी सी जलन हो सकती है | लेकिन यह आपके छालों को जल्दी ठीक करती है | इसके लिए फिटकरी को छाले वाली जगह पर दिन में दो बार लगाए |

नमक से ठीक होंगे मुंह के छाले। Mouth Blisters will be Cured with Salt in Hindi

छाले होने पर एक गिलास गुनगुने पानी में आधा चम्मच नमक मिलायें | अब इसे मुंह में कम से कम 5 से 10 मिनिट तक चलाये | छाले होने पर इस प्रक्रिया को दिन में 3 से 4 बार करें | यह आपके मुंह की अच्छे से सफाई तो करता है है और आपके छालों को तेजी से ठीक करता है |

mouth ulcers with coriander

धनिया से ठीक होते है मुंह के छाले। Mouth Blisters are Cured With Coriander

 आयुर्वेद में मुंह के छाले ठीक करने के लिए धनिया एक इलाज है। धनिये में एन्टीबायटिक तत्व होते है जो की मुंह के बक्टीरिया और छालों पर काम करते है। इस के लिए धनिया को पानी में डालकर उबले , उबलने के बाद पानी को छानले। इस धनिये वाले पानी को ठंडा होनेदे। इस पानी से दिन में तीन से चार बार कुल्ला करे। कच्चे धनिये में मुख्य रूप से लिनालूल शामिल, इसके बाद λ-terpinene, α-pinene, कपूर, लिमोनेन, geranyl एसीटेट और p- सिमीन शामिल हैं।।  यह सभी तत्व हमरी सेहत के लिए अच्छे होते है।

मुंह के छाले दूर करती है तुलसी। Basil Relieves Mouth Ulcers

भारत में तुलसी को पूजा जाता रहा है। तुलसी का महत्व सात्विक ही नहीं औषधिक भी है। तुलसी को हजारो सालो से औषधि की तरह भी काम लिया जाता रहा  है। तुलसी मुंह के छालो के लिए सबसे अछि दवा है। इसे काम लेने के लिए तुलसी के चार या पांच पत्ते को चबाए  तथा इसे पानी के साथ निगल जाए। तुलसी में Antifungals और  Antivirals तत्व होते है। जो हमारे मुह के साथ साथ पुरे शरीर के लिए अच्छे होते है। 

लौंग से मुँह के छाले का इलाज। Clove Mouth Ulcers Treatment in Hindi

लौंग हमारे पुरे स्वास्थ के लिए तो अच्छी होती है, साथ मुँह के चले के लिए लौंग के फायदे बहुत है। इस का इतमाल करने के लिए आप को लौंग के तेल को एक रुई के टुकड़े से भिगोए। फिर मुंह को गर्म पानी या नमक के पानी से धोए। तत्प्श्चात छाले पर लौंग के तेल का प्रयोग करे। इस उपचार से आप को जल्दी ही छालो में राहत मिलेगी।

Q 1.ऐसा क्या है जो मुंह में छाले का कारण बनता है?

Answer.  मुंह के छाले कभी-कभी वायरल संक्रमण जैसे कुछ विशेष चिकित्सा उपचार कारण भी हो सकते हैं, जैसे कि गले में खराश वायरस, चिकनपॉक्स और हाथ, पैर और मुंह की बीमारी। 

Q 2. क्या मुंह के छाले मुंह कैंसर का संकेत है?

Answer. मुंह का कैंसर मुंह के अधिकांश हिस्सों में विकसित होता है, जिसमें होंठ, मसूड़े और कभी-कभी गला भी शामिल हैं। मुंह के कैंसर के सबसे आम लक्षण मुंह के छाले हैं जो लम्बे समय तक ठीक नहीं होते हैं।

Q 3. मुंह के छाले सफेद क्यों होते हैं?

Answer. मुंह के छाले सफेद होते हैं क्योंकि हमारा शरीर त्वचा की मोटी परतें बनता हैं जो छाले को ठीक करने की कोशिश करती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here