Home स्वास्थ्य महिला स्वास्थ्य मासिक धर्म के दर्द को जड़ से ख़त्म करने के 5 सबसे...

मासिक धर्म के दर्द को जड़ से ख़त्म करने के 5 सबसे असरदार घरेलु नुस्खे | Periods Pain Relief Tips in Hindi

0
142
period me pet dard ka ilaj, upay, tarike

मासिक धर्म यानि की मेंस्ट्रुअल सायकल महिलाओ में होने वाली सामान्य सी प्रक्रिया है | लेकिन अधिकांश महिलाये और लड़किया पीरियड्स के आने वाले दिनों से डरने लग जाती है, जिसकी वजह है मासिक धर्म के समय दर्द | पीरियड्स के दौरान पेट व कमर के निचले हिस्से में दर्द रहता है | पीरियड में हल्का दर्द होना स्वाभाविक सी बात है लेकिन कई बार यह दर्द इतना बढ़ जाता है जिससे की महिलाओ का सामान्य जीवन प्रभावित होता है |

इस दर्द से घर के रोजाना के काम करने में भी दिक्कत आती है | वैसे इस दर्द को दूर करने के लिए बाजार में पेन किलर दवाइया मिलती है लेकिन इनसे उस समय तो दर्द ठीक हो जाता है लेकिन इनके कुछ साइडइफेक्ट भी होते है जिनकी वजह से महिलाये इन दवाइयों के उपयोग करने से डरती है | अगर आप भी हर महीने मासिक धर्म के समय दर्द से परेशान है तो चिंता मत कीजिये आज हम आपको मासिक धर्म के समय दर्द से छुटकारा पाने के लिए कुछ ऐसे असरदार नुस्खे बताने जा रहे है जिनसे आपका यह दर्द जड़ से ख़त्म हो जायेगा |

periods me dard ke upay

विषय सूची

मासिक धर्म के समय दर्द से बचने के लिए करे पोदीना, सौंफ और तुलसी का इस्तेमाल | Home Remedies for Periods Pain in Hindi

period me dard ke upay के लिए जो पहला नुस्खा है उसे बनाने के लिए हमे जरुरत होगी पुदीना, सौंफ और तुलसी के पत्तो की| तुलसी के पत्ते मेंस्ट्रुअल क्रैम्प्स  के लिए बहुत फायदेमंद होते है | इसके अंदर कैफ़िक एसिड पाया जाता है जो की शरीर में दर्द निवारक का काम करता है| इसे बनाने के लिए 1 गिलास पानी में 7 से 8 तुलसी के पत्तो को डालकर 2 पुदीने के पत्ते और 1 चम्मच सोंफ मिलाये |

इसमें तुलसी के पत्तो को डालते समय ध्यान रहे की तुलसी के पत्ते हमें बड़े वाले ही लेने है | क्युकी दर्द को दूर करने के लिए बड़े वाले पत्ते ही ज्यादा असरदार होते है और छोटे वाले तुलसी के पत्ते ज्यादा गरम होते है | जिनसे पेट में गर्मी पैदा हो सकती है | इसके बाद इन पत्तो को 5 से 6 मिनिट के लिए बॉईल कर ले | उसके बाद छानकर इस ड्रिंक का सेवन करे |

ये भी पढ़ें : तुलसी के फायदे

इसमें मौजूद सौंफ महिलाओ के लिए वरदान की तरह है | इसके अंदर एंटी इसपेमोडिक और एंटी इन्फ्लामेट्री प्रॉपर्टीज पायी जाती है | जो की गर्भाशय और उससे जुडी सभी तरह की माँसपेशिओ को आराम पहुंचाती है | इस वजह से इसका उपयोग करने से पीरियड के दौरान होने वाले दर्द में भी बहुत ज्यादा आराम मिलता है | इसलिए जिन भी महिलाओ को मासिक धर्म के कारन दर्द रहता है उन्हें सोंफ का सेवन जरूर करना चाहिए | इस ड्रिंक को मेंस्ट्रुअल साइकिल के दौरान दिन में १ से २ बार पिने से शरीर में होने वाले दर्द में तुरंत राहत मिलती है |

और पढ़े: अनियमित माहवारी का इलाज

period pain relief home remedies in hindi

पीरियड्स में दर्द का इलाज करने के लिए असरदार है ये नुस्खा | Period Me Dard Ka Ilaj Hai Ye Nuskha

इसके अलावा period ke time pet dard के इलाज के लिए एक और नुस्खा है जिसे बनाने के लिए हमे जरुरत होगी दालचीनी, अदरक और शहद की | मासिक धर्म के दौरान रक्त बहने पर शरीर में प्रोस्टाग्लेंडिस की मात्रा बढ़ जाती है | जिस वजह से पेट कमर और पीठ में दर्द होने लगता है | ऐसी स्थिति में अदरक का सेवन करने से दर्द में तेजी से सुधार आता है |

नुस्खा बनाने की विधि

इस नुस्खे को बनाने के लिए 1 गिलास पानी में 1 टेबलस्पून कद्दूकस किये हुए अदरक को डालकर इसमें आधा टीस्पून दालचीनी मिलाये | इसके बाद इसे 5 से 6 मिनिट के लिए बॉईल करें और फिर इसे छान ले | और जब यह थोड़ा ठंडा हो जाये तब इसमें 1 चम्मच शहद मिलाकर इसका सेवन करें | इसमें मौजूद दालचीनी में कैल्शियम, मैग्नीशियम और आइरन पाया जाता है | साथ ही इसके एंटी इन्फ्लामेट्री प्रॉपर्टीज दर्द को जल्दी ठीक करने में बहुत अधिक फायदेमंद होती है | इस ड्रिंक को पीरियड्स के दौरान 1 से 2 बार जरूर पीना चाहिए |

साथ ही अगर आप इस ड्रिंक को और भी असरदार बनाना चाहते है तो इसके अंदर तुलसी सोंफ और अजवाइन को भी मिलाया जा सकता है | इस तरह से यह दोनों  ड्रिंक के कॉम्बिनेशन से जो नई ड्रिंक बनेगी वो पीरियड्स में होने वाले दर्द में तुरंत असर दिखाएगी | इसलिए अगर आप सारी चीजों को अरेंज कर पाते है तो इन सब को आपस में मिलाकर ही इस ड्रिंक को बनाये |

period me pet dard ka ilaj

महावारी में पेट दर्द दूर करने में फायदेमंद है अशोक के पेड़ के पत्ते | Period Pain Solution in Hindi

period me pet dard ka ilaj करने के लिए जो अगला नुस्खा जो हम बताने जा रहे है वह बहुत ही असरदार नुस्खा है, जो पीरियड में होने वाले दर्द को हमेशा हमेशा के लिए जड़ से ख़त्म कर सकता है | वह है अशोक के पेड़ के पत्ते | अशोक के पेड़ के पत्ते पीरियड्स में होने वाले दर्द में चमत्कारिक रूप से फायदेमंद होते है | साथ ही यह महिलाओ में अनियमित मासिक धर्म ज्यादा या कम ब्लीडिंग होना मेनपॉस, ल्यूकोरिया और  पाईल्स जैसी प्रोब्लेम के लिए भी यह बहुत अधिक लाभकारी होता है|

शरीर में किसी भी तरह के इन्फेक्शन और दर्द को दूर करने के लिए इसका इस्तेमाल काफी समय से किया जाता आ रहा है | इस नुस्खे में हमें अशोक के पेड़ के पत्तो से हमे एक ड्रिंक तैयार करनी है | इसके लिए हमे वही वाले अशोक के पेड़ के पत्ते चाहिए होंगे जिसमे लाल कलर का फूल आता है |

अशोक के पेड़ 2 प्रकार के होते है एक तो वे जो लम्बे और पतले होते है और दूसरा वह जो आम के पेड़ के पत्तो की तरह फैला हुआ होता है | इसमें जो पतला वाला पेड़ है हमे उसका इस्तेमाल नहीं करना है | जो अशोक का पेड़ घना और फैला हुआ होता है | हमें वही अशोक के पेड़ के पत्तों की जरुरत होगी | यह एक बहुत ही कॉमन पेड़ है | जो की आपको किसी भी नर्सरी और गार्डन  में आसानी से मिल जायेगा |

नुस्खा बनाने की विधि

इस ड्रिंक को बनाने के लिए 5 से 6 अशोक के पत्तो को मिक्सर में अच्छी तरह चलाकर उनकी चटनी बना ले | उसके बाद इस चटनी को 1 से डेड गिलास पानी में डालकर अच्छी तरह बॉईल कर ले | इसे हमे तब तक बॉईल करना है, जब तक की पानी आधा रह जाये | इसके बाद जब यह पूरी तरह ठंडा हो जाये, तब इसे बिना छाने ही इसका सेवन करना है |

इस्तेमाल का तरीका

इसे पीरियड के दौरान और पीरियड शुरू होने से पहले रोजाना दिन में 1 से 2 बार पीना चाहिए | और अगर आप चाहते है की पीरियड में होने वाला दर्द हमेशा के लिए चला जाये तो 30 से 40 दिन तक इस ड्रिंक का रोजाना सेवन करें | ऐसा करने से मासिक धर्म में होने वाला दर्द हमेशा के लिए ठीक हो जाता है |  और फिर दर्द को ठीक करने के लिए किसी भी तरह की दवाई और नुस्खों की जरुरत भी नहीं पड़ती है |

अशोक के पेड़  के पत्तो के साथ साथ इसकी छाल और फूल भी बहुत लाभकारी होते है | अगर आपको अक्सर पिम्पल निकलते रहते है या फिर चेहरे पर दाग धब्बे है या चेहरा सावला है तो इस ड्रिंक के 15  दिन के इस्तेमाल से ही इन सभी तरह की प्रॉब्लम में तेजी से सुधार आता है और चेहरे पर एक नई चमक भी दिखने लग जाती है |

और पढ़े: बांझपन का कारण और इलाज

Mahawari Me Dard Ka Ilaj

मासिक धर्म के समय दर्द को दूर करने के लिए गाजर और पपीते के बीज है लाभकारी | Gajar or Papite ke Beej Hai Mahawari Me Dard Ka Ilaj in Hindi

इसके अलावा पीरियड्स के दौरान पेट दर्द से रहत पाने के लिए गाजर और पपीते के बीज बहुत लाभकारी होते है | पपीते के बीज को सुखाकर उनका पावडर बना ले | फिर 1 चम्मच पपीते के पावडर को 1 गिलास पानी में मिलाकर पीरियड्स के दौरान और पीरियड्स के 2 दिन पहले और 2 दिन बाद तक इसका सेवन करें | ऐसा अगर आप हर मेंस्ट्रुअल साइकिल के दौरान करते है तो आप देखेंगे की पीरियड्स के टाइम पर होने वाला दर्द महीने दर महीने कम होता जायेगा | और कुछ समय बाद हमेशा के लिए ही चला जायेगा |

पीरियड्स के दर्द से बचने के लिए फायदेमंद है ब्रेंड़ी | Periods Pain Relief Home Remedies in Hindi

दोस्तों यह तो हो गए कुछ अंदरूनी नुस्खे | इसके अलावा पीरियड साईकल के दौरान होने वाले दर्द में होने वाले दर्द में तुरंत राहत के लिए कुछ बाहरी नुस्खों का उपयोग किया जा सकता है | इसमें ब्रेंड़ी का इस्तेमाल करना सबसे अधिक फायदेमंद होता है | ब्रेंड़ी एक तरह की मदिरा यानि की एलकोहॉल होती है जो मार्किट में किसी भी वाइन शॉप पर आसानी से कम दामों में ही मिल जाती है | इसका इस्तेमाल करने के लिए एक कॉटन बॉल को ब्रेंड़ी से अच्छी तरह भिगो ले और बिस्तर पर सीधी मुद्रा में लेटकर अपनी नाभि पर 20 से 30 मिनिट के लिए अपनी नाभि पर लगाकर रखे |

ऐसा करने पर आप धीरे धीरे अपना दर्द कम होता हुआ महसूस करेंगे | इस उपाय को रात को सोने से पहले किया जाये तो इसका असर पहले से ज्यादा अच्छा हो सकता है | और अगर आप का दर्द ज्यादा है या आप इसका असर और अधिक बढ़ाना चाहते है तो इसे रात भरके लिए भी लगाके रखा जा सकता है | इसे और अधिक आसान बनाने के लिए आप नाभि पर लगायी कॉटन बॉल को टेप या बेंडेड के सहायता से भी चिपका सकते है | यह एक देशी नुस्खा है और पुराने समय से कई महिलाओ द्वारा इस्तेमाल किया जाता आ रहा है |

पीरियड्स में होने वाले दर्द के अलावा इस नुस्खे का इस्तेमाल सर्दी , बुखार और मांसपेशियों में दर्द को दूर करने के लिए भी किया जाता आ रहा है |

और पढ़े: ब्रेस्ट का आकार बढ़ाने के आसान तरीके

मासिक धर्म के समय दर्द से बचने के लिए करे आंवला, एलोवेरा और पपीते का इस्तेमाल | Tips for Stomach Pain During Periods in Hindi

साथ ही जिन लोगो को अक्सर मासिक धर्म के दौरान दर्द होता ही है | उन्हें रोजाना खाली पेट एलोवेरा और आंवले का जूस जरूर पीना चाहिए | और साथ ही कुछ दिन पहले और पीरियड्स के दौरान रोजाना पपीते का सेवन करना चाहिए | ऐसा करने से पीरियड के दौरान होने वाले दर्द सीधा आधा हो जायेगा | और अगर आप रोजाना सुबह खाली पेट एलोवेरा जूस का सेवन करते है, तो समय के साथ साथ आप देखेंगे की पीरियड्स में होने वाला दर्द बिलकुल ही ठीक हो जायेगा | इसलिए स्वस्थ जीवन जीने के लिए इसका सेवन जरूर करे |

Periods Pain Relief Tips in Hindi

मासिक धर्म में पेट दर्द से बचने के लिए चाय, कॉफी और नॉनवेज से करें परहेज | Periods Pain Relief Tips in Hindi

पीरियड के दौरान अगर आप नॉनवेज का सेवन करती है तो यह आपके दर्द को बढ़ा देता है | इसके अलावा चाय और कॉफी पिने से भी आपके दर्द में वृद्धि होती है और पीरियड्स भी अनियमित हो जाते है | इसलिए पीरियड्स के आने से कुछ दिन पहले ही नॉनवेज और चाय कॉफी का सेवन पूरी तरह बंद कर देना चाहिए | इसके अलावा इस दौरान आपको अधिक से अधिक पानी पीना चाहिए | साथ ही हरी सब्जियों का सेवन और कैमोमाइल टी से  भी आपकी दर्द की समस्या दूर होती है | इस दौरान कम से कम तनाव में रहे और अपने माइंड को फ्रेश रखे इसके लिए आप हल्का म्यूजिक भी सुन सकते है |

हम उम्मीद करते है की आज की यह जानकारी आपके लिए फायदेमंद सिद्ध होगी | आगे भी हम सेहत से जुडी ऐसी ही उपयोगी  जानकारी आपके लिए लाते रहेंगे | अगर आपको यह पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे लाइक और शेयर करें | अगर आपके पास मासिक धर्म के समय दर्द से बचने के उपाय एवं तरीकों से सम्बंधित कोई सवाल या सुझाव हो तो कमेंट करें |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here