नॉन वेजेटेरियन अक्सर नॉनवेज खाने के लिए यह तर्क देते है की इससे उन्हें अच्छी मात्रा में प्रोटीन होता है जो की वेजेटेरियन खाने से नहीं मिलते है | लेकिन आपको बता दें की वेजेटेरियन भोजन में कुछ ऐसी चीजे है जो भरपूर मात्रा में प्रोटीन प्रदान करती है | ऐसी एक चीज है सोयाबीन | आज के इस आर्टिकल में हम सोयाबीन क्या है (soybean kya hai ) , सोयाबीन के फायदे (soybean ke fayde ) और नुकसान जानेंगे लेकिन उससे पहले हमारे लिए यह जानना भी जरुरी है, की सोयाबीन क्या है और सोयाबीन में कौन कौन से पोषकत तत्व होते है | 

विषय सूची

सोयाबीन क्या है ? What is Soybean in Hindi

सोयाबीन एक तरह की फली होती है | फली से निकले बीज क्रीम रंग के होते है | इसका उत्पादन पुराने समय से किया जाता आ रहा है | इसमें बड़ी मात्रा में प्रोटीन होता है इसलिए इसके सेवन को शाकाहारी लोगो के लिए बहुत जरुरी बताया गया है | पूरी दुनिया में सबसे अधिक सोयाबीन का उत्पादन अमेरिका में होता है | सोयाबीन का वैज्ञानिक नाम ग्लाइसिन मैक्स है | 

सोयाबीन में पोषक तत्व | Soybean Nutrient in Hindi

प्रोटीन की उच्च मात्रा के साथ ही सोयाबीन में विटामिन वसा और खनिज लवण में आइरन,जस्ता, ताम्बा, मैगनीज, मैग्नीशियम, कैल्शियम और पोटेशियम की भी अच्छी मात्रा होती है | सोयाबीन में फाइबर पाया जाता है जो की हमारे पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है | अब तो आप जान ही गए होंगे की इतने अधिक पोषक तत्वों के साथ ही सोयाबीन हमारे स्वास्थ्य के लिए कितना फायदे मंद हो जाता है | 

पोषक तत्व मात्रा 
प्रोटीन 40%
कार्बोहाइड्रेड 24.6 %
नमक 48 %
तेल 20 %
कैल्शियम 240 मिग्रा 
फास्फोरस 690 मिग्रा 
लोह तत्व 11.5 मिग्रा
विटामिन ए 710 अ.इ.
विटामिन बी-1730 माइक्रोग्राम
विटामिन बी-2760 माइक्रोग्राम
नायसिन 2.4 मिग्रा
कैलोरी432

सोयाबीन का उपयोग | Soybean Uses in Hindi

किसी भी चीज के पुरे फायदे पाने के लिए उसका सही तरह से सेवन करना जरुरी है | सोयाबीन का उपयोग आज के समय कई खाद्य वस्तुओ में किया जा रहा है | 

  • सोया दूध और टोफू बनाकर
  • सोया सूप बनाकर 
  • सब्जी बनाने में सोयाबीन तेल का उपयोग
  • सोयाबड़ी का उपयोग सब्जी बनाने में
  • अंकुरित करके सेवन कर सकते है  

सोयाबीन के फायदे | soybean benefits in hindi 

सोयाबीन में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते है जो कई तरह की health problem में फायदेमंद होते है | तो आइये जानते है क्या है सोयाबीन के फायदे 

पाचन क्रिया मजबूत बनाने में सोयाबीन के फायदे | Soybean for Strong Digestion in Hindi

शरीर की अधिकांश बीमारिया पेट के कारन ही होती है | गलत खानपान और भोजन के अच्छे से नहीं पचने से शरीर में कई तरह की बीमारिया होती है | भोजन को पचाने के लिए फाइबर की जरुरत होती है | सोयाबीन में फाइबर की अच्छी मात्रा होती है इसलिए | भोजन के अच्छे से पचने से उसके पोषक तत्व भी हमे अच्छी से मिल पाते है और फ्रेश भी अच्छे से हो पाते है | 

सोयाबीन के फायदे डाइबिटीज में | Soybean Benefits for Diabetes in Hindi 

सोयाबीन के फायदे डाइबिटीज में भी बहुत लाभकारी है | इसमें उच्च मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है जो की शरीर में बढ़ती गलूकोज की मात्रा को नियंत्रित करता है | और इन्सुलिन की सवेदशीलता को बढ़ाता है | इससे शरीर में डाइबिटीज होने का खतरा बहुत कम हो जाता है | 

कोलेस्ट्रॉल कम करने में सोयाबीन के लाभ | Cholesterol Removal with Soybean in Hindi

शरीर में बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल ह्रदय सहित अन्य कई गंभीर बीमारियों का कारण होता है | सोयाबीन में लिनोलिक एसिड पाया जाता है जो की शरीर के लिए जरुरी फैटी एसिड होता है और यह शरीर में बढ़ रहे हानिकारक कोलेस्ट्रॉल को कम करता है | इसमें पाए जाने वाला आइसोफ्लोवेन्स भी कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने का काम करता है | लेकिन यह केवल हानिकारक कोलेस्टोरल को ही कम करता है और सोयाबीन के सेवन से जरुरी HDL कोलेस्ट्रॉल पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है | 

सोयबीन के फायदे हड्डियों के लिए | Soybean Beneficial for Strong Bones in Hindi

बढ़ती उम्र के साथ हड्डियां कमजोर होने लगती है ऐसे में सोयाबीन का सेवन आपकी हड्डियों के लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है | सोयाबीन में अच्छी मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है जो की हड्डियों की मजबूत के लिए जरुरी तत्व है इसके साथ ही इसमें मैग्नीशियम, ताम्बा  सेलेनियम और जस्ता जैसे खनिज भी हड्डियों को पोषण प्रदान कर उन्हें मजबूत बनाते है | 

महिलाओ के लिए सोयबीन के फायदे | Soybean Benefits for Women in Hindi

महिलाओ को जब मेनोपोज़ होता है उस समय महिलाओं को बहुत दर्द होता है | इस समय महिलाओं की हड्डियों का क्षरण होने लगता है | जिसकी वजह से उन्हें अर्थराइटिस जैसी बीमारी होने लगती है | इस समय महिलाओं की हड्डिया कमजोर हो जाती है | घुटनों और जोड़ों में दर्द रहने लगता है | क्योंकि उनमें एस्ट्रोजन हार्मोन की कमी हो जाती है | ऐसे में सोयाबीन का सेवन लाभकारी होता है| इस समय महिलाओ को रोजाना 50 ग्राम सोयाबीन का सेवन करना चाहिए | 3 महीने सेवन करने के बाद मोनोपोज यानि की रजनोवृत्ति से सबंधित सभी समस्याएं दूर हो जाती है |

महिलाओं के लिए सोयाबीन का सेवन बहुत ही लाभकारी होता है , सोयाबीन में आइरन पाया जाता है जो की रक्त की कमी को दूर करता है | पीरियड के समय महिलाओं के शरीर में एस्ट्रोजन हार्मोन की कमी हो जाती है , सोयाबीन के सेवन से एस्ट्रोजन के निर्माण में मदद मिलती है | इसके अलावा सोयाबीन के सेवन से अनियमित पीरियड्स और पीरियड के दौरान होने वाले दर्द की समस्या भी दूर  होती है | 

बालों के लिए सोयाबीन के फायदे | Soybean Beneficial for Hair in Hindi

अक्सर हम बालों पर कई तरह के हेयर प्रोडक्ट लगाते है जो की बालों को कमजोर कर देते है | बालों को मजबूत बनने के लिए बाहर से ही नहीं बल्कि अंदर से भी पोषण की जरुरत होती है | सोयाबीन में फाइबर के साथ ही विटामिन सी, के भी पाए जाते है जो की बालों को जड़ से मजबूत बनाते है | इसलिए मजबूत बालों के लिए सोयाबीन का सेवन करें |

सोयाबीन के फायदे कैंसर में | Soybean Benefits for Cancer in Hindi

कई तरह की बीमारी के साथ ही  कैंसर में सोयाबीन के फायदे बहुत ही असरकारक माने गए है | सोयाबीन में फाइटेट पाया जाता है जो की एक कैंसर रोधी तत्व है , इसके अलावा आइसोफ्लोवेन और विटामिन के भी पाए जाते है जो की प्रोस्टेट , स्तन और अन्य तरह के कैंसर को रोकने में बहुत ही प्रभावी भूमिका निभाते है | 

रक्तचाप को सामान्य बनाये रखने में सोयाबीन | Soybean for Normal Blood Pressure in Hindi

आज के समय हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी तेजी से बढ़ी है | सोयाबीन के सेवन से हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को ठीक किया जा सकता है | सोयाबीन में प्रोटीन हैडोलाइजेन्ट घटक रक्तचाप को बढ़ने से रोकते है और रक्तचाप को सामान्य बनाये रखते है | 

मोटापा कम करने में सोयाबीन के लाभ | Soybean Benefits for Weight Loss in Hindi

मोटापा कम करने के लिए सोयाबीन ( motapa kam karne ke liye soyabean ) को आप अपने भोजन में शामिल कर सकते है इसमें पाए जाने वाले प्रोटीन और फाइबर शरीर में चर्बी को नहीं जमने देता है और साथ ही कोलेस्ट्रॉल पर भी नियंत्रित करता है | फाइबर से आपका पाचन भी अच्छा होता है और यह शरीर में मोटापा नहीं बढ़ने देता है |    

रोग प्रतिरोधकता बढ़ाने में सोयाबीन | Improve Immunity for Soybean in Hindi

हमारा शरीर स्वस्थ रहे और बीमारियों और संक्रमण से बचाये रखने में शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी होनी जरुरी है | सोयाबीन में लेक्टिन पाया जाता है जो की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है |

यौन शक्ति बढाती है सोयाबीन

सोया दूध में उच्च मात्रा में फाइटोएस्ट्रोजेंट पाए जाते है जो की महिलाओ में एस्ट्रोजन हार्मोन को बढ़ाते है | जब मोनोपोज़ के समय पहुंच चुकी महिलाओ में सेक्स हार्मोन की उत्पादन कम हो जाता है | जिसकी वजह से उनकी सेक्स में अरुचि होने लगती है | ऐसे में सोया दूध में पाए जाने वाले फायटोएस्ट्रोजेंट एस्ट्रोजन की कमी को पूरा करते है|

सोयाबीन के नुकसान | Soybean Side Effects in Hindi

  • सोयाबीन में उच्च मात्रा में एस्ट्रोजन पाया जाता है | जिसके कारन पुरुषो में हार्मोन में असंतुलन हो सकता है | अधिक सोयाबीन के सेवन से पुरुषो में स्पर्म में शुक्राणुओं की संख्या कम हो सकती है |
  • सोयाबीन के अधिक सेवन से शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ सकता है |
  • सोयाबीन के अधिक सेवन से उच्च रक्तचाप की समस्या हो सकता है |
  • सोयाबीन के  सेवन से वजन भी अधिक बढ़ सकता है | 

हम उम्मीद करते है सोयाबीन खाने के फायदे (Soybean Benefits in Hindi ) से सबंधित जानकारी आपके लिए उपयोगी सिद्ध होगी | अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया  तो आप इसे लाइक और शेयर करें और अगर आपके मन में कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट करें | 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here